Google+ Followers

Thursday, 30 March 2017

263 भरी पटारी खाली करते गए(BhRi Patari Khali Karte Gae)

भरी पटारी लेकर निकले थे हम घर से
राह थी तेरे दीवानों से भरी।
हर कोई रोक लेता तेरे लिए,
कह न पाते जो कुछ ,तो कसम देते तेरी।
तेरे नाम पर ही हम बस हर बात ब्यान करते गए।
भरा था तन और मन मय से।
राह में बढ़ रही थी रात बड़ी।
हर कोई देखा पिए हुए।
हर किसी के मन में देखी तस्वीर तेरी।
हम से सभी मांगते रहे तेरे प्यार का जाम ,और मुझे खाली करते गए।
तुम्हारे पास ना पहुंच सका तन से,
भले ही पहुंची आवाज मेरी।
तुझे दिखानी थी सूरत अपनी गम लिए हुए,
क्योंकि यह कसम थी तेरी ।
पग-पग सफर तय किया मगर पहुंच ना सके ,
और कदम ढलते गए ।
हम तेरे प्यार में मरते गए,
 मगर चलते गए।
263 4March 1991
Bhari Patari Lekar Nikle the Hum Ghar Se
rah thi tere Deewano Se Bhari
Har Koi rok leta Tere Liye
Na jo keh Patte Kuch Toh Kasam Dete Teri
Tere Naam Pe Hi Hum bas Har Baat byan Karte gai.
Bhara tha Tan or Mann Mera Meh se.j
Raah Mein bod rahi thi Raat Badi.
Har Kisi Ke man mein Dekhi Tasveer Teri
Humse sabhi Mangte Rahe Tere Pyar Ka jaam ,
aur Mujhe khaali Karte Gaye.
Tumhare paas Na Puhunch ska ton se,
Bhle hi phunchi Awaz Meri.
Tujhe Dikhani thi Surat apni gum liye huye,
Kyunki Yeh Kasam Thi Teri .
Pug Pug suffer Tai kia Magar pahunch Na Sake.
Aur Kadam dhalte gai .
Hum Tere Pyar Mein Marte Gaye.
Magar Chalte Gaye.

Wednesday, 29 March 2017

264 मौका तो दो कुछ कहने का (mouka to do kuch Kehne ka,)

अगर हमें दो मौका तुम कुछ कहने का,
तो दिल को खोल कर रख दें।
हो जो इजाजत कुछ कहने की,
जहां को झंजोड़ कर रख दें।
ऐसे मारे तीर नजरों का,
कि शीशा तोड़ कर रख दें।
देखते ही रह जाएंगे जहां वाले,
ऐसे उन की आंखें खोल कर रख दें।
कुछ और ना सुने बस हमारे ही तराने हों,
उनके कानों में ऐसे सुर घोल कर रख दें।
अगर हमें दो मौका तुम कुछ कहने का,
तो दिल खोल कर रख दें।
हो इजाजत कुछ कहने की,
जहां को झंजोड़ कर रख दें
264 4March 1991
Agar Hume Do mouka tum kuch Kehne ka,
Toh dil ko kholl kar Rakh De.
Ho Jo Ijazat kuch Kehne Ki,
Jahan co jhinjod kar Rakh De.
Essay Marain Teer Nazar ka,
Ki Sesha Tod Kar Rakh de.
Dekhte Hi Reh Jayenge Jahan wale ,
essay unKi Aankhen Khol kar Rakh De.
 Kuch aur na Sune bus Hamare hi taRane Hoon,
Unke Kaano Mein Aise Sur c ghol kar Rakh De.
Agar Humain Do mauka tum kuch Kehne ka,
Toh dil ko khol kar Rakh De.
Ho Jo Ijazat kuch Kehne Ki,
Jahan co jinjod kar Rakh De.

Tuesday, 28 March 2017

265 किस्मत अपनी भी चमकेगी कभी (Kismat Apni Bhi Chamkegi Kabhi)

किस्मत अपनी भी चमकेगी कभी
रोशनी हम से भी होगी इस जहान में
लोग हमारी भी बातें करेंगे गौरव से
हमारे नाम का भी जिक्र होगा उनकी जुबान पे
जब भी जाएंगे वह कहीं यहां से कहीं और
हमारी तस्वीर भी साथ होगी उनके सामान में
अब तो वह देखते ही नहीं हमारी तरफ
तब वह भी हो जाएंगे दिवाने हमारे नाम के
हर किसी का अपना भाग्य होता है
है हमारा क्या ,इसका चर्चा होगा जहान में।
265. 4March 1991
Kismat Apni Bhi Chamkegi Kabhi
Roshni Humse bhi Hogi is Jahan Mein
Log Hamari bhi Baatein Karenge Gaurav se
Hamare naam ka bhi jiqr Hoga un ki juban se
Jab Bhi Jayenge vO yahan se Kahin aur
Hamari Tasveer Bhi Saath Ho gi un ke Saman me
Ab to Woh Dekhte hi nahi Hamari Taraf
Tab vo by ho jayenge Deewane Hamare Naam Ke
Har Kisi Ka Apna Bhagya Hota Hai
Hey Hamara kya, iska Charcha Hoga Jahan Mein.

Monday, 27 March 2017

266 हम तुम्हारे हैं (Hum Tumhare Hain)

अभी तुम हमें तड़पा लो छूपके हमारी नजरों से,
क्योंकि दिन अभी तुम्हारे हैं।
आकाश को भी रंग बदलना पड़ता है,
दिन में सूरज तो रात में तारे हैं ।
आज हम खुद कहते हैं तड़प कर,
हम तुम्हारे हैं।
कल यह भी होगा कि सब से कहोगी तुम,
कि वो हमारे हैं।
तब शायद ही तुम मुझे पा सको ,
क्योंकि कहीं तब हम ना कह दें,
 कि दिन अब हमारे हैं।
तड़प कर देख लो हमारे प्यार में अभी,
फिर कहना,
हम तुम्हारे हैं।
266 4 Mar 1991



Abhi Tum Hame Tadpa Lo Chupke Hamari Nazron Se,
 Kyon Ki Din abhi Tumhare Hain.
Aakash ko bhi Rang badalna padta hai,
Din main Suraj Tuo Raat Mai Tare Hain.
Aaj Hum Khud kehte hain Tadap Kar,
 Hum Tumhare Hain.
Kal ye Bhi Hoga, Ki Sabse kahogi Tum,
 Ki Vo Hamare Hain.
Tab Shayad he tum mujhe Pa sako ,Kyunki,
 Kahin tab Hum Na kehe De,
K din Ab Hamare Hain.
Tadap Kar Dekh Lo Hamari Pyar mein abhi,
Phir Kehna ,
Hum Tumhare Hain.

Sunday, 26 March 2017

246 उजाला कर दो मेरी जिंदगी में आके (UJala kar do Meri Zindagi Mein Aake)

उजाला कर दो मेरी जिंदगी में आके।
क्या मिलेगा तुझे ,मुझे अंधेरों में तड़पा के।
मुझे अपनी राहों का साथी बना लो।
तुम्हें क्या, हो जाए जो मेरी जिंदगी में उजाले।
तड़पता रहा हूं  आंखों में तेरी तस्वीर सजा के।
क्या मिला तुम्हें ,मुझे रातों को जगा के।
ना तुम जो मेरी जिंदगी में आते।
मेरे सजे सपने ना यों तुम बिखराते।
अपने ही सपने ना मेरी आंखों को दिखाते।
जो आए सपने में तो जिंदगी में भी आते।
उजाला करते मेरी जिंदगी में आके।
 246 18 Nov 1990
 UJala kar do Meri Zindagi Mein Aake.
Kya Milega Tumhe ,Mujhe andheron me Tadpa Ke .
Mujhe Apni Rahon ka sathi Bana Lo.
Tujhe Kya ,Ho Jaye jo Meri Zindagi Mein UjaLe.
Tadapta Raha Hoon, Aankhon Mein Teri Tasveer Saja Ke.
Kya Mila TumHe Mujhe Raaton Ko Jaga ke.
Na tum yun Meri Zindagi Mein Aate.
Mere Saje Sapne Na Yu tum bikharate.
Apne He Sapne Na Meri Ankhon Ko Dikhate.
Jo Aaye Sapne Mein Toh Zindagi Mein Bhi Aate.
Ujala karte Meri Zindagi Mein aake.

Saturday, 25 March 2017

250 आकाश की तरह साफ होता काश तेरा मन (Aakash Ki Tarah saaf Hota Kaash teRa man)

आकाश की तरह साफ होता काश तेरा मन।
बादल की तरह छा जाता मैं तुझ पर।
 पड़ने ना देता निगाह इन काले दिल वालों की।
बना लेता मैं तुझ को अपना हमसफर।
 तुझे कोई कष्ट ना होने देता ,तुम्हारी सोच में भी।
समा लेता खुद में तुम्हें इस कदर।
 तुम भूल जाना चाहती जब कुछ, कहता ,दुनिया भूल जाओ।
और तुम पा लेती मुझे सारी दुनिया भूल कर।
250 18 Nov 1990
Aakash Ki Tarah saaf Hota Kaash teRa man.
Badal Ki Tarah cha Jata Mein Tujh per.
Padhne na deta nigaha in Kale Dilwalon Ki.
Bana leta Tujhko Apna Humsafar.
Tujhe Koi casht na hone deta ,Tumhari Soch Mein Bhi.
Sama leta khuld main tumhe Is Kadar.
Tum Bhool Jaana chahti Jab kuch ,Kehta ,Duniya bhul jao.
Aur tum paa Leti Mujhe Sari Duniya Bhool Kar.

Friday, 24 March 2017

227 (गीत )आजा मेरे सनम (Geet) Aaja Mere Sanam

दिल ने आवाज दी, आजा मेरे सनम।
आजा मेरे सनम , तुझे मेरी कसम।
दिल ने आवाज......।।
दिल में तूफान उठा के, क्यों दूर जा रहे हो तुम।
चले जा रहे हो चैन मेरा ले के, और दे के मुझे गम।
दिल ने आवाज..।।।।
आजा मेरे सनम...।।।
वादा तूने क्यों तोड़ दिया ,क्यों तोड़ दी तूने कसम।
जो है तुझे कोई गिला ,मिटा दूंगा तेरे शिकवे, ए सनम।
 दिल ने आवाज दी आजा मेरे.......।।
आजा मेरे.......।
रुक जा ओ जाने वाले, हो गई जो खता ,कर हम पे करम।
जो तू रुसवा है हमसे, रुक जा एक बार, तुझे मना लेंगे हम।
दिल ने आवाज दी.......।।
आजा मेरे सनम.....।।
227 25 Oct 1990
Dil Ne Awaz Di ,Aaja Mere Sanam.
Aaja Mere Sanam, Tujhe Meri Kasam.
 Dil Ne Awaz........
Dil Mein Toofan Utha Ke, Kyun Dur Ja Rahe Ho Tum.
Chale Ja Rahe Ho Chain Mera Le ke, aur Dekhe Mujhe Gham.
Dil Ne Awaz Di........
Aaja Mere Sanam.......
Wada tune Kyun tod Diya ,kyu Tod Di Tune Kasam.
Jo Hai Tujhe Koi Gila, Mita Dunga Tere Shikwe, e Sanam.
Dil Ne Awaz......
Aaja Mere Sanam......
Ruk Ja e Jane Wale ,Ho Gayi Jo Khata, Kar Hum Pe Karam.
 Jo tu ruswa Hai humse, Ruk Ja Ek Baar ,Tujhe Mana Lenge Hum.
Dil Ne Awaz......
Aaja Mere Sanam......